Dil Ka Gulab

Dil Ka Gulab

Dil Ka Gulab

Author: Dr. Anjum Barabankvi
Editing: Saajid Premi
Publisher: Pahle Pahal Prakashan
Price: Rs.500

अरबी साहित्य की प्रशिद्ध काव्य विद्या ग़ज़ल उर्दू के साथ साथ हिंदी में काफी लोकप्रिय है | आमतौर पर ग़ज़ल  की रचना उर्दू में की जाती है लेकिन इस पुस्तक का लेखन और संपादन ग़ज़ल को देवनागरी (हिंदी) लिपि में रसिकजनों व पाठको के लिए किया गया है | इस पुस्तक में अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त शायर अंजुम बाराबंकवी द्वारा आकल्पित रचनाओ में ग़ज़लें, नग्मे, भजन आदि का चयनित, लिप्यन्तरित, सम्पादित संग्रह है | इन ग़ज़लों का लेखन करने वाले शायर अंजुम बाराबंकवी इसमें अपनी सर्वश्रेष्ठ रचना ‘ दिल का गुलाब सबसे ज़्यादा हसीं है ‘ को मानते है | इस ग़ज़ल संग्रह में प्रेरणादायी, मोहब्बत के साह ही देशभक्ति पर्व, रक्षाबंधन, दिवाली, आज़ादी, बेटी, बारिश समेत अलग-अलग विषयों को सहज भाओ के साथ सब्दों में पिरोया गया है | कविता प्रेमिओ के लिए अच्छी पेशकश है |

Share and Enjoy

  • Facebook
  • Twitter
  • Delicious
  • LinkedIn
  • StumbleUpon
  • Add to favorites
  • Email
  • RSS

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*